कैसे गले की जलन से राहत पाएँ (Stop a Burning Throat)

अगर आपके गले में जलन हो रही है या आपका गला बैठा हुआ है, तो आप फौरन इससे राहत पाना चाहेंगे। गले की जलन, आपके लिए कुछ निगलना, बात करना और कुछ खाना भी मुश्किल बना देती है। ओवर द काउंटर पेन मेडिकेशन्स, मीठी गोलियाँ (lozenges) और थ्रोट स्प्रे, ये सब डॉक्टर के पास जाने से पहले गले में दर्द से निपटने का सबसे अच्छा तरीका है। आपके फौरन कुछ रिलीफ़ ले लेने के बाद, अपने डॉक्टर के पास जाकर इसके पीछे की वजह को जानने का वक़्त लें।

बर्निंग या सोर थ्रोट को ट्रीट करना (Treating a Burning or Sore Throat)

एक ओवर द काउंटर पेन मेडिकेशन लेकर देखें: एसिटामिनोफेन (acetaminophen) या आइबुप्रुफेन (ibuprofen) जैसी ओरल पेन रिलीवर लेना, एक सबसे आसान तरीका होता है। आप इसे किस तरह से ले सकते हैं, को जानने के लिए, बॉक्स पर मौजूद डाइरैक्शन फॉलो करें।

  • चूंकि आइबुप्रुफेन इरिटेशन और स्वेलिंग को कम करती हैं, इसलिए ये एसिटामिनोफेन से ज्यादा असरदार हो सकती हैं। हालांकि, एसिटामिनोफेन अभी भी दर्द कम करने के लिए असरदार हो सकती है।

पोप्सिक्ल (popsicle) खाएँ: आइस-कोल्ड पोप्सिक्ल, कोल्ड के जरिए दर्द को नम्ब करके, बर्निंग थ्रोट में रिलीफ़ प्रोवाइड करती हैं।

  • आप चाहें तो आइस क्रीम या फ़्रोजन फ्रूट जैसे दूसरे कोल्ड ट्रीट्स को भी ट्राई करके देख सकते हैं। यहाँ तक कि आइस टी या कोल्ड वॉटर भी आपके गले के लिए मदद कर सकते हैं।

थ्रोट लाज़िन्ज (throat lozenges)/मीठी गोलियां ट्राई करें: थ्रोट लाज़िन्ज ओवर-द-काउंटर मिल जाती हैं और इन्हें गले को आराम देने के मकसद से ही तैयार किया जाता है। अगर आपको अपने शुगर-इनटेक के ऊपर ध्यान देने की जरूरत है, तो बस इनके शुगर-फ्री ऑप्शन की तलाश कर लें।

  • आप लाज़िन्ज को अपनी जरूरत के हिसाब से कई बार यूज कर सकते हैं। साथ ही, यूकेलिप्टस या मेन्थेनोल वाली किसी एक को चुनने की कोशिश करें, क्योंकि ये कूलिंग रिलीफ़ देती हैं।

थ्रोट स्प्रे यूज करें: अगर आपको लाज़िन्ज चूसना अच्छा नहीं लगता, तो आप एक थ्रोट स्प्रे भी यूज कर सकते हैं। क्लोरोप्लास्ट्स (Chloroplasts) जैसे थ्रोट स्प्रे में नम्बिंग और एंटीबायोटिक्स, दोनों ही प्रॉपर्टीज़ पाई जाती हैं, इसलिए ये सोर थ्रोट में आपकी मदद कर सकते हैं।

  • उन्हें यूज करने के लिए, अपने मुंह को बड़ा खोल लें। अपनी जीभ को बाहर निकाल लें। स्प्रे को अपने मुंह के पीछे की तरफ लक्ष्य करें और अपने थ्रोट को स्प्रे कर लें।

अपने खाने को ठंडा कर लें: अगर आपका खाना बहुत ज्यादा गरम है, तो ये आपके गले की इरिटेशन को और भी ज्यादा बढ़ा सकता है। आपके गले के सोर होने पर स्कॉल्डिंग (जलाने वाले) फूड या ड्रिंक्स मत लें। इसे ठंडा करने के लिए इस पर फूँक मरें। एक आइस क्यूब एड कर दें या फिर खाने से पहले इसे चम्मच से हिला लें।

हाइड्रेटेड रहें: सोर थ्रोट होने पर, दिनभर में भरपूर पानी पियें। अगर आप डिहाइड्रेटेड हो गए हैं, तो आपका गला सूख जाएगा, जो और ज्यादा इरिटेशन पैदा करेगा। आपको सिर्फ पानी ही नहीं पीना है। चाय कॉफी भी अच्छे ऑप्शन हैं, खासकर गुनगुने–न कि–बहुत ज्यादा गरम–लिक्विड्स आपके गले को राहत दे सकते हैं।

  • पुरुषों को दिनभर में करीब 13 कप्स पानी पीना चाहिए, जबकि महिलाओं को करीब 9 कप तक पानी पीना चाहिए। हो सकता है, कि सोर थ्रोट होने पर आपको शायद और भी ज्यादा पानी पीने की जरूरत पड़ सकती है।
  • अपने गले को और ज्यादा आराम देने के लिए, अपनी चाय या कॉफी में एक चम्मच हनी एड कर लें।

हवा को ह्यूमिडिफ़ाई कर लें: ड्राई थ्रोट होने की वजह से एक्सट्रा इरिटेशन होना शुरू हो सकती है, जो आपके ड्राई थ्रोट को और भी बदतर बना सकती है। अगर आपका घर बहुत ज्यादा ड्राई है, तो ये आपके गले को और भी ज्यादा नुकसान पहुंचा सकता है, इसलिए इससे बचने के लिए फिर एक ह्यूमिडिफ़ायर यूज करके देखें।

  • हालांकि, आपको एक बहुत गरम शावर लेने से और स्टीम में कुछ साँसें लेने से भी ऐसा ही असर देखने को मिल सकता है। शावर लेना शुरू करने से पहले बाथरूम को बंद कर दें। जब आप पहली बार शावर को चालू करते हैं, तब इसे ज्यादा गरम पर चालू करें, ताकि आपका बाथरूम पूरा स्टीम से भर जाए। शावर के नीचे जाने से पहले, इसे नॉर्मल टेम्परेचर पर ले आएँ। जब आप शावर लें, तब गहरी साँसें लें, स्टीम को अपने थ्रोट तक जाने दें।

स्मोकिंग मत करें: सिगरेट स्मोक करना, यहाँ तक कि सेकंड-हैंड स्मोक भी आपके गले को इरिटेट कर सकती है। जब तक आपका गला ठीक न हो जाए, तब तक सिगरेट स्मोक से दूर रहें।

एक नया टूथब्रश ले आएँ: वक़्त के साथ-साथ टूथब्रश पर बैक्टीरिया जमा हो जाते हैं। अगर आप बहुत ज्यादा वक़्त से अपने उसी पुराने टूथब्रश का यूज करते रहेंगे, तो आप फिर से अपने गले को बैक्टीरिया से इनफेक्ट कर लेंगे।

  • आपके गम्स से, खासतौर पर अगर ये ब्रश करते वक़्त ब्लीड करते हैं, तब बैक्टीरिया आपके शरीर के अंदर एंटर कर जाता है।

अपने डॉक्टर से प्रिस्क्रिप्शन लें: आपके डॉक्टर इससे निपटने के तरीके बताने में आपकी मदद कर सकते हैं। कई मामलों में, आपको अपने सोर थ्रोट को ट्रीट करने के लिए एंटीबायोटिक्स के एक राउंड की जरूरत पड़ सकती है, जो पूरी तरह से इसके पीछे की वजह के ऊपर डिपेंड करता है।

नेचुरल ट्रीटमेंट्स यूज करना (Using Natural Treatments)

एक एप्पल साइडर विनिगर सोल्यूशन का यूज करें: गुनगुने पानी में एक-एक चम्मच हनी और विनिगर की एड कर लें। अच्छी तरह से मिक्स कर लें। इसे पी जाएँ।

  • कुछ लोग कहते हैं, कि चूंकि ये बैक्टीरिया को खत्म करता है, इसलिए ये सोर थ्रोट से राहत पाने में मदद करता है। हनी भी दर्द से कुछ राहत दिलाएगी।
  • अगर आप चाहें, तो आप इसकी जगह पर एप्पल साइडर विनिगर से गार्गल (कुल्ला) भी कर सकते हैं। गार्गल करने के लिए, 1/2 कप पानी के साथ में 2 चम्मच मिक्स कर लें। हनी को रहने दें।

साल्टवॉटर (नमक के पानी) से गार्गल करें: एक कप पानी को हल्का सा गरम कर लें। उसमें आधा चम्मच साल्ट एड करें और उसे मिलाते जाएँ। चूंकि साल्टवॉटर दर्द और इन्फ़्लैमेशन से राहत देता है, इसलिए इसे गार्गल के तौर पर यूज करें।

  • साल्टवॉटर एक एंटीसेप्टिक की तरह काम कर सकता है, जो आपके गले में जर्म्स को बढ़ने से रोक सकता है। ये कफ (phlegm) को भी निकालने में मदद करता है।
  • आप चाहें तो एक कप गरम पानी में 1/2 चम्मच साल्ट को और 1/2 चम्मच बेकिंग सोडा को मिलाकर और फिर उसी तरह से इससे गार्गल कर सकते हैं।

मार्श्मैलो रूट (marshmallow root) की चाय बनाएँ: आप इस रूट को ऑनलाइन या किसी नेचुरल ड्रग स्टोर में पा सकते हैं। एक मग में एक चम्मच रूट रखें और उसके ऊपर उबलता हुआ पानी डाल दें। इसे कुछ आधे से एक घंटे के लिए रहने दें।

  • पल्प को छानकर निकाल लें। मिक्स्चर को पी लें।
  • अगर आपको डायबिटीज़ है या फिर दूसरे ब्लड शुगर डिसऑर्डर्स हैं, तो डॉक्टर को दिखा दें, क्योंकि ये आपके ब्लड शुगर लेवल को चेंज कर सकता है।

लिकोरिस रूट (licorice root) टी पिएँ: कुछ लोगों के गले को लिकोरिस रूट टी से आराम मिलता है। आप इस पहले से मिक्स टी को स्टोर से ले सकते हैं या फिर अपनी खुद की भी बना सकते हैं।

  • अपनी खुद की चाय बनाने के लिए, आपको 1 कप लिकोरिस रूट (चोप की हुई), 1/2 कप दालचीनी (छोटे-छोटे टुकड़ों में), 2 चम्मच लौंग (पूरी) और 1/2 कप कैमोमाइल फ्लावर की जरूरत पड़ेगी। आप इन्हें नेचुरल फूड स्टोर्स पर पा सकते हैं। इन्हें एक एयरटाइट जार में रखें।
  • एक सॉसपैन में 2.5 कप्स पानी डाल दें। 3 चम्मच टी को पानी में एड कर दें। उबलने तक चाय को गरम करें और फिर करीब 10 मिनट्स तक इसे हल्की सी हीट पर पकने दें। पल्प को छान लें और फिर पी लें।

बर्निंग थ्रोट के पीछे की वजह को पहचानना (Determining the Source of Your Burning Throat)

हार्टबर्न के लिए चेक करें: हार्टबर्न में एसिड आपके गले के पीछे की तरह चला जाता है, इसलिए इसकी वजह से भी आपके गले में बर्निंग सेन्सेशन हो सकती है।

  • आपकी चेस्ट में होने वाला बर्निंग सेन्सेशन, जिसे नजरअंदाज करने की वजह से ये और भी बदतर हो जाता है, ये हार्टबर्न का एक और लक्षण है। आमतौर पर खाना खाने के बाद ऐसा होता है।आपको अगले दिन गले में खराश महसूस हो सकती है या फिर आपको निगलने में परेशानी हो सकती है।
  • अगर आपको हार्टबर्न है, तो आपके मुंह में भी खट्टापन जैसा या मेटालिक सा टेस्ट आना शुरू हो जाएगा।
  • बैठ जाएँ। अगर आप बेड पर नींद में हैं और हार्टबर्न की वजह से आपके गले के पीछे की तरफ एसिड आ गया है, तो आपको सबसे पहले बैठ जाना चाहिए। अपने गले को आराम देने के लिए पानी पी लें। आप चाहें तो अपने बेड की ऊंचाई भी बढ़ा सकते हैं।
  • ओवर-द-काउंटर मिलने वाले ऐन्टैसिड्स (antacids) हार्टबर्न के लिए पहला ट्रीटमेंट होते हैं। ये आपकी ग्रासनली (esophagus) और पेट में मौजूद एसिड को भी न्यूट्रलाइज करने में मदद करते हैं। ये फौरन काम करते हैं। ये आपके पहले से ही बर्न हुए थ्रोट पर कोई असर नहीं दिखाते हैं, लेकिन ये नए एसिड को गले में एंटर होने से रोक देगा।
  • लगातार बने रहने वाले दर्द और डिस्कंफ़र्ट से जूझ रहे लोगों को डॉक्टर से मिल लेना चाहिए।

बर्निंग माउथ सिंड्रोम के बारे में सोचें: अगर आपके गले के साथ-साथ, आपके मुंह के दूसरे हिस्से में भी जलन हो रही है, तो आपको शायद बर्निंग माउथ सिंड्रोम हो सकता है। हॉर्मोन्स, एलर्जीस, इन्फेक्शन्स और सही विटामिन्स नहीं पाने की वजह से भी सेकंडरी माउथ सिंड्रोम हो सकता है। हालांकि, प्राइमरी बर्निंग माउथ सिंड्रोम के साथ, डॉक्टर्स इसके पीछे की वजह को लेकर अभी भी निश्चित नहीं हैं।

  • आपको ड्राई माउथ भी हो सकता है या आपके मुंह में अजीब सा टेस्ट आएगा। अगर आपको भी ऐसे ही सिंड्रोम्स नजर आ रहे हैं, तो अपने डॉक्टर और/या डेन्टिस्ट के पास जाएँ। ये शायद फेशियल न्यूरोपैथी की वजह से भी ऐसा हो सकता है।

अपना टेम्परेचर लें: अगर आपको फीवर है, तो इसका मतलब आपको स्ट्रेप थ्रोट (गले में खिंचाव) हो सकता है। स्ट्रेप थ्रोट के दूसरे लक्षणों में आपके मुंह में अंदर ऊपर, पीछे की तरफ व्हाइट स्पॉट्स, फीवर, हैडेक और रैशेस भी शामिल हैं। स्ट्रेप थ्रोट में कफ नहीं नजर आता है।

  • अगर आपको शक है, कि आपको स्ट्रेप थ्रोट है, तो अपने डॉक्टर के पास चले जाएँ। स्ट्रेप थ्रोट कभी-कभी टॉन्सिलिटिस में विकसित हो सकता है, जो कि टॉन्सिल का एक इन्फेक्शन है। ट्रीटमेंट में एंटीबायोटिक्स शामिल होते हैं।
  • स्वेलिंग वाली लिम्फ़ नोड और सोर थ्रोट के साथ फीवर आना मोनोन्यूक्लिओसिस (mononucleosis) का लक्षण हो सकता है, इसलिए अगर आपको ये लक्षण भी नजर आ रहे हैं, तो अपने डॉक्टर के पास चले जाएँ। आपका मोनोस्पॉट टेस्ट किया जाएगा और आपके डॉक्टर एक ब्लड टेस्ट में में एटिपिकल लिम्फोसाइट्स (atypical lymphocytes) भी देख सकते हैं। स्प्लेनिक (splenic) डैमेज होने से बचने के लिए स्पोर्ट्स से बचने की कोशिश करें।

नोट करें, आपका सोर थ्रोट कितने वक़्त तक रहता है: अगर आपका सोर थ्रोट ट्रीटमेंट के बाद भी रहता है, तो ये शायद थ्रोट कैंसर जैसी किसी और सीरियस कंडीशन का संकेत हो सकता है। अगर आपका गला दो हफ्तों से ज्यादा सोर रहता है, खासकर अगर आपने एंटीबायोटिक्स का एक राउंड ले चुका है, तो अपने डॉक्टर के पास चले जाएँ।

  • कैंसर से जुड़े हुए अनचाहे वेट लॉस की तरफ नजर रखें।

दूसरी वजह के बारे में सोचें: किसी एलर्जी या स्मोकिंग की वजह से भी सोर और बर्निंग थ्रोट हो सकता है। इन वजहों से होने वाले सोर थ्रोट को ठीक करने में मदद पाने के लिए सबसे अच्छा रहेगा, कि अप स्मोकिंग छोड़ दें या फिर ऐन्टीहिस्टेमीन लेकर अपनी एलर्जी को कंट्रोल करें।

Leave A Reply

Your email address will not be published.